Goat Farming Training in Lucknow, UP, India किसे और क्यों करना चाहिए:-

Goat Farming in UP, India में जो जानकारी दी जाएगी वो उन प्रशिक्षणार्थियों के लिए है जो:-

  1. Goat Farming व्यवसाय शुरु करना चाहते हैं और व्यवसाय से सम्बन्धित अर्थशास्त्र, सफलता का प्रतिशत, व्यवसाय के लाभ व हानि तथा करें या ना करे, पर असमंजस में हैं।
  2. Goat Farming Training in UP, India व्यवसाय शुरु करने का निश्चय कर चुके हैं लेकिन उन लोगों का व्यवहारिक अनुभव साझा करना चाहते हैं, जो इस व्यवसाय को सफलतापूर्वक चला रहे हैं।
  3. पहले से ही यह व्यवसाय कर रहे हैं तथा लाभ को और अधिक बढ़ाना तथा फार्म के परिचालन-संबंधी और गहन जानकारी चाहते हैं, उन्हें Goat Farming in UP, India अवश्य करनी चाहिए।

हमारे द्वारा दिया गया Goat Farming Training in Lucknow, UP, India सबसे अलग क्यों है? हमारा प्रशिक्षण Goat Farming in India में अन्य किसी भी प्रशिक्षण से अलग कैसे है?

  • क्योंकि हम उच्च-तकनीक द्वारा निर्मित एवं वैज्ञानिक पद्धति से व्यवस्थित Goat Farming in India हाउस का पूर्णतः व्यवहारिक अनुभव आपके साथ बांटते हैं ताकि आप हमारे फार्म की उन्नत बकरियों का व्यवहारिक अनुभव अपने व्यवसाय में उपयोग कर सकें।

व्यवसायिक और वैज्ञानिक विधि से बकरी पालन का एक दिवसीय प्रशिक्षण कार्यक्रम का पाठ्क्रम।

  1. Bakri palan क्यों और कैसे करें।
  2. Bakri palan का परिचय, भारत में बकरियों की प्रमुख नस्लें एवं उनकी पहचान।
  3. उन्नत नस्ल का चयन।
  4. बकरी आवास एवं उपकरण।
  5. शेड का निर्माण।
  6. बकरियों में कृतिम गर्भाधान।
  7. बकरियों के लिए चारा फसल की खेती।
  8. बकरियों के लिए संतुलित आहार का महत्व एवं प्रबंधन।
  9. बकरियों का प्रजनन प्रबंधन तथा बकरी की हीट का पता लगाना।
  10. Bakri Palan UP में स्टाल फेड विधि कैसे करें।
  11. गाभिन कराने का उचित माह, प्रजनन, गर्भधारण हेतु उचित आयु, प्रजनन बकरों का चयन।
  12. बकरी दूध का महत्व।
  13. बकरी के बच्चों का रखरखाव।
  14. बकरी के बच्चों के लिए संतुलित आहार का महत्व एवं प्रबंधन।
  15. बकरियों की बीमारियों का टीकाकरण कार्यक्रम एवं उसका महत्व।
  16. बकरियों में होने वाले बाह्य एवं अन्तः परजीवी जनित रोग एवं उनका उपचार।
  17. Bakri palan ki jankari में आपको ये भी बताया जायेगा कि, फार्म प्रबंधन क्रियाकलाप जैसे- खुर तराशना, बधियाकरण, पहचान चिन्ह लगाना, वजन कराना, बालों को काटना, ब्रश द्वारा सफाई करना, नहलाना।
  18. बकरियों की बिक्री एवं र्मोटिंग स्ट्रेटजीज, बकरियों की अच्छी कीमत प्राप्त करने हेतु बिक्री व्यवस्था।

1 दिवसीय वैज्ञानिक बकरी पालन प्रशिक्षण कार्यक्रम नियम एवं शर्तें

  1. Goat Farming Training in UP, India स्थल आर0वी0 गोट प्वाइंट, बाराबंकी है।
  2. प्रशिक्षण समय प्रातः 10.00 बजे से सांय 05.00 बजे तक होगा।
  3. सभी प्रशिक्षणार्थी निर्धारित समय से पूर्व प्रशिक्षण स्थल पर पहुॅच जाएं ताकि प्रशिक्षण कार्यक्रम अपने निर्धारित समयानुसार शुरु हो सके।
  4. प्रशिक्षणार्थी को आने/जाने तथा रहने की व्यवस्था स्वंय करनी होगी।
  5. Goat Farming Training in Lucknow, UP, India के दौरान प्रशिक्षणार्थी को चाय, बिस्किट तथा स्वल्पाहार की व्यवस्था की जाएगी।
  6. सम्पूर्ण प्रशिक्षण शुल्क अग्रिम/एडवांस में बैंक में जमा कराना होगा, जिसकी वापसी नहीं होगी।
  7. प्रशिक्षण समाप्त होने पर प्रशिक्षणार्थी को ट्रेनिंग सर्टिफिकेट तथा बकरी पालन से संबंधित लिटरेचर/साहित्य प्रदान किया जाएगा।
  8. Goat Farming Training in India शुल्क रु0 2000.00 प्रति व्यक्ति। शुल्क जमा करने के उपरान्त अपना सम्पूर्ण विवरण नोट करा दें या वाट्सएप (09919902906) पर
    भेज दें।

बैंक खाता विवरणः-

Vivek Singh
State Bank of India
Saving Bank A/C No.-031479192403
NBRI Branch, Rana Pratap Marg,
Lucknow (U.P.), India
IFSC Code: SBIN0010173

-: ट्रेनिंग रजिस्ट्रेशन फार्म :-

अभ्यर्थी का नाम:

आयु:

पता:

फोन नं0:

ई-मेल:

प्रशिक्षण की जानकारी प्राप्त हुई-वेबसाइट/किसी व्यक्ति/फेसबुक/अन्य:

बैंक जमा / ट्रांसफर विवरण / Bank Deposit / Transfer Details

नकदी जमा विवरण: